From
Subject
Time (UTC)
notification+zrdzdord1=lz@facebookmail.com
[देश के गद्दारों की पोल खोलो] *कश्मीर में तांडव मचा है!*
2016-08-19 07:44:57
To: देश के गद्दारों की पोल खोलो
From: notification+zrdzdord1=lz@facebookmail.com (sender info)
Subject:

[देश के गद्दारों की पोल खोलो] *कश्मीर में तांडव मचा है!*


Received: 2016-08-19 07:44:57
  Dhiraj Kumar posted in देश के गद्दारों की पोल खोलो .       Dhiraj Kumar August 19 at 1:14pm   *कश्मीर में तांडव मचा है!* *लेकिन न ही अवार्ड वापसी हुई;* *न किसी की बीवी की देश छोड़कर जाने की इच्छा हुई!* *हद है दोगलेपन की!* *वहां भारतीय फौज एक "आतंकवादी" का एनकाउंटर करती है और, और कश्मीर की जनता हमारी फौज को दौडा दौडा कर पत्थर मारती है!* *आज की घटना:* *भूतपूर्व सरकार का हर नेता चुप!* *दिल्ली का हाहाकारी मुख्यमंन्त्री चुप!* *काँग्रेस के सारे बुद्धिजीवी चुप!* *संघ-मुक्त भारत करने की इच्छा रखने वाले चुप!* *एन डी टी वी चैनल चुप!* *ए बी पी चैनल चुप!* *इन्डिया टीवी चुप!* *न्यूज 24 वाले चुप!* *पत्रकार चुप!* *साहित्यकार चुप!* *फिल्मकार चुप!* *आमिर खान चुप!* *सलमान खान चुप!* *पाकिस्तान को करोड़ों रूपए भेजने वाला शाहरूख खान चुप!* *असिहष्णुता का ढिढोरा पिटने वाले चुप!* *आप चुप!* *हम चुप!* *सारा देश है चुप-चाप! क्यों? क्यों? क्यों ?धिक्कार है इन सब पर! लानत भेजता हू मै इन सब पर!* *क्यों हम यह भूल गये कि यह वही फ़ौजी जवान है जिन्होंने पिछले बरस बाढ से पीड़ित अलगाववादी काश्मीरियो को अपनी जान पर खेलकर बचाया था!* *और तो और, इन्हीं कमीनो के लिये पिछले साल हर एक फौजी ने अपनी एक दिन की सैलरी दी थी बाढ़ राहत कोष में!* *अगर सच मे हम मे हिन्दुस्तानी होने का जरा भी एहसास बचा है तो करो इस पोस्ट को शेयर!* *कब तक चुप रहेंगे हम?* *क्या सिर्फ good morning और good night और फालतू की शेर शायरी पोस्ट करते रहेंगे ?* *अरे भाई अब जागो!कुछ तो बोलो चुप्पी तोड़ो! और सराहो हिंदुस्तानी फ़ौज़ के बहादुरी भरी कारनामों पर! *भारत माता की जय!*   Like Comment Share    
   
 
   Facebook
 
   
   
 
Dhiraj Kumar posted in देश के गद्दारों की पोल खोलो.
 
   
Dhiraj Kumar
August 19 at 1:14pm
 
*कश्मीर में तांडव मचा है!*
*लेकिन न ही अवार्ड वापसी हुई;*
*न किसी की बीवी की देश छोड़कर जाने की इच्छा हुई!*
*हद है दोगलेपन की!*

*वहां भारतीय फौज एक "आतंकवादी" का एनकाउंटर करती है और, और कश्मीर की जनता हमारी फौज को दौडा दौडा कर पत्थर मारती है!*

*आज की घटना:*

*भूतपूर्व सरकार का हर नेता चुप!*

*दिल्ली का हाहाकारी मुख्यमंन्त्री चुप!*

*काँग्रेस के सारे बुद्धिजीवी चुप!*

*संघ-मुक्त भारत करने की इच्छा रखने वाले चुप!*

*एन डी टी वी चैनल चुप!*

*ए बी पी चैनल चुप!*

*इन्डिया टीवी चुप!*

*न्यूज 24 वाले चुप!*

*पत्रकार चुप!*

*साहित्यकार चुप!*

*फिल्मकार चुप!*

*आमिर खान चुप!*

*सलमान खान चुप!*

*पाकिस्तान को करोड़ों रूपए भेजने वाला शाहरूख खान चुप!*

*असिहष्णुता का ढिढोरा पिटने वाले चुप!*
*आप चुप!*

*हम चुप!*

*सारा देश है चुप-चाप! क्यों? क्यों? क्यों ?धिक्कार है इन सब पर! लानत भेजता हू मै इन सब पर!*

*क्यों हम यह भूल गये कि यह वही फ़ौजी जवान है जिन्होंने पिछले बरस बाढ से पीड़ित अलगाववादी काश्मीरियो को अपनी जान पर खेलकर बचाया था!*

*और तो और, इन्हीं कमीनो के लिये पिछले साल हर एक फौजी ने अपनी एक दिन की सैलरी दी थी बाढ़ राहत कोष में!*

*अगर सच मे हम मे हिन्दुस्तानी होने का जरा भी एहसास बचा है तो करो इस पोस्ट को शेयर!*

*कब तक चुप रहेंगे हम?*

*क्या सिर्फ good morning और good night और फालतू की शेर शायरी पोस्ट करते रहेंगे ?*

*अरे भाई अब जागो!कुछ तो बोलो चुप्पी तोड़ो! और सराहो हिंदुस्तानी फ़ौज़ के बहादुरी भरी कारनामों पर!

*भारत माता की जय!*
 
Like
Comment
Share
 
 
   
   
 
View on Facebook
   
Edit Email Settings
 
   
   
Reply to this email to comment on this post.
 
   
   
 
This message was sent to deleted@email-fake.pp.ua. If you don't want to receive these emails from Facebook in the future, please unsubscribe.
Facebook, Inc., Attention: Community Support, Menlo Park, CA 94025